भारत ने बना ली कोरोना वायरस की स्वदेशी वैक्सीन, 15 अगस्त को लॉन्च की तैयारी

कोरोना वायरस वैक्सीन से जुड़ी एक बड़ी और अच्छी खबर आई है। पता चला है कि देश में 15 अगस्त को कोरोना वैक्सीन (coronavirus indigenous vaccine) लॉन्च करने की तैयारी है। यानी स्वतंत्रता दिवस के दिन से देश को कोरोना वायरस से भी आजादी मिलना शुरू हो सकती है। यह वैक्सीन इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने हैदराबाद की Bharat Biotech International Ltd (BBIL) के साथ मिलकर बनाई गई है।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने हैदराबाद की Bharat Biotech International Ltd (BBIL)ने मिलकर जिस वैक्सीन को बनाया है उसका नाम BBV152 कोविड वैक्सीन रखा गया है। यह पूरी तरह से स्वदेशी है।

ICMR के एक्सर्ट्स ने बताया है कि कोरोना वायरस की वैक्सीन को क्लीनिकल ट्रायल के बाद 15 अगस्त को लॉन्च किया जा सकता है। इस काम को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए ICMR ने सभी स्टेकहोल्डर्स को पत्र लिखा है। कहा गया है कि इस काम को टॉप प्रायओरिटी पर करना है। ICMR ने भारत बॉयोटेक को लिखे एक पत्र में कहा है कि स्वदेशी कोरोना वैक्सीन का ट्रायल फास्ट ट्रैक मोड में किया जाए जिससे 15 अगस्त तक क्लीनिकल ट्रायल के रिपोर्ट को लॉन्च कर दिया जाए। ICMR ने 12 संस्थानों से इस दवा का जल्द से जल्द क्लीनिकल ट्रायल करने को कहा है।

Bharat Biotech के बारे में जानिए
भारत बायोटेक का प्‍लांट, एशिया-पैसिफिक के सबसे बड़े फार्मास्‍यूटिकल मैनुफैक्‍चरिंग प्‍लांट्स में से एक है। साल 1996 में भारतीय वैज्ञानिक डॉ. कृष्‍णा ऐल्‍ला ने भारत बायोटेक की नींव रखी थी। वो अमेरिका से ये इरादा लेकर लौटे थे कि भारत में इनोवेटिव वैक्‍सीन्‍स बनाएंगे। वही इसके चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्‍टर हैं। वैक्‍सीन बनाना भारत बायोटेक की खासियत है। कंपनी अब तक 160 से ज्‍यादा पेटेंट करा चुकी है। BBIL कोरियन फूड एंड ड्रग्‍स एडमिनिस्‍ट्रेशन (KFDA) से ऑडिट और अप्रूव्‍ड होने वाली देश की पहली कंपनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!